Facebook Twitter instagram Youtube
नकटरय-य-रत-म-बर

नोक्टुरिया या रात में बार-बार पेशाब के होने के सामान्य कारण क्या हैं?

क्या रात के समय बार-बार पेशाब आने के कारण आपकी नींद टूट रही है? तो शायद आपको नोक्टुरिया हो सकता है।

 

नोक्टुरिया क्या होता है?

 

विशेष रूप से रात को बार-बार पेशाब करने को नोक्टुरिया कहा जाता है। यह वयस्कों, खासकर 60 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों में नींद टूटने और ख़राब होने का एक सामान्य कारण होता है। गंभीर नोक्टुरिया के पीड़ित कुछ व्यक्तियों को रात में पाँच बार से ज्यादा बार पेशाब करने की आवश्यकता महसूस हो सकती है। नोक्टुरिया अक्सर अन्य चिकित्सा स्थितियों का एक लक्षण भी होता है।

 

हालांकि नोक्टुरिया बेड-वेटिंग या एन्यूरिसिस से अलग स्थिति होती है।

 

न्यूरिसिस में, व्यक्ति का मूत्राशय पर नियंत्रण नहीं रहता है और बिना नींद से उठे बिस्तर में वहीँ मूत्र त्याग कर देता है। लेकिन नोक्टुरिया में, व्यक्ति तत्काल पेशाब करने की इच्छा के कारण नींद से जाग जाता है।

 

रात को बार-बार पेशाब करने के क्या कारण हो सकते हैं?

नोक्टुरिया आम तौर पर अन्य चिकित्सीय स्थितियों या जीवनशैली संबंधी स्थितियों से जुड़ी हो सकती है। आइए नोक्टुरिया के विभिन्न कारण के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं:

 

  • सोने से पहले पानी पीना - ज्यादा पानी पीना या सोने से थोड़ी देर पहले पानी या अन्य पेय, खासकर शराब या कैफीनयुक्त पेय पीने से रात को बार-बार पेशाब करने की समस्या हो सकती है। इसीलिए सोने से पहले पानी पीने से बचें और सोने से पहले ही बाथरूम जाएं।
  • संक्रमण - नोक्टुरिया अक्सर मूत्रमार्ग संक्रमण (यूटीआई) या ब्लैडर संक्रमण के कारण हो सकती है। इन संक्रमण के कारण पेशाब करते समय जलन और रात और दिन में बार-बार बाथरूम जाने का कारण बन सकते हैं।
  • उम्र - जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, तो आपका शरीर कम एंटीडायरेटिक हार्मोन उत्पन्न करता है, यह हार्मोन मूत्र को सांद्रित करने में मदद करता है ताकि आपका ब्लैडर उसे रोक सके। इससे कारण ब्लैडर को नियंत्रित करने में मुश्किल हो सकती है जिसके परिणामस्वरूप नोक्टुरिया हो सकता है। यह दिक्कत आम तौर पर 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को होती है।
  • दवाएँ - कुछ दवाएँ, खासकर जो उच्च रक्तचाप का इलाज करने में दी जाती हैं, उनके दुष्परिणाम से नोक्टुरिया हो सकता है। यदि इन दवाइयों के सेवन से आप पेशाब करने या इसे नियंत्रित करने की क्षमता खो देते हैं, तो जल्द से जल्द अपने डॉक्टर से संपर्क करें।
  • निद्रा विकार - कभी-कभी, निद्रा विकार भी नोक्टुरिया का कारण बन सकती हैं। यदि आपको रेस्टलेस लेग्स सिंड्रोम, अनियमित दर्द, स्लीप अपनिया, या डिप्रेशन की समस्या है, तो आधि रात में पेशाब करने की इच्छा हो सकती है। निद्रा विकार का इलाज करते समय नोक्टुरिया का भी उपचार किया जा सकता है।
  • हृदय सम्बन्धी समस्याएँ- कुछ हृदय स्थितियों के कारण आपके शरीर में तरल पदार्थ इकट्ठा हो सकते हैं। सोते समय अतिरिक्त तरल पदार्थ आपके मूत्राशय में भर जाते हैं और बाहर निकलने का रास्ता खोजते हैं। इसके परिणामस्वरूप विशेष रूप से रात में तत्काल पेशाब करने की इच्छा पैदा होती है।
  • उच्च रक्तचाप - जापान में हुए एक नवीन अध्ययन में पाया गया कि नोक्टुरिया को उच्च रक्तचाप और अत्याधिक नमक सेवन से जोड़ा जा सकता है।

"हमारे अध्ययन से यह संकेत मिलते हैं कि अगर रात में पेशाब करने की जरूरत होती है- जिसे नोक्टुरिया कहा जाता है - तो यह आपके उच्च रक्तचाप और/या शरीर में अतिरिक्त तरल पदार्थ के कारण हो सकता है," ये कथन डॉ. सतोशी कोन्नो, टोहोकु रोसाई अस्पताल, सेंडाई, जापान के हाइपरटेंशन विभाग ने कहा है।

नोक्टुरिया और अन्य शारीरिक स्थितियों के बीच पुख्ता संबंध खोजने के लिए विभिन्न अध्ययन किये जा रहे हैं।

  • जीवन शैली का चयन - द्रव्य पदार्थ खासकर शराब और कैफीन युक्त पेयजल के अतिरिक्त सेवन के कारण भी नोक्टुरिया हो सकता है। ये पदार्थ आपके शरीर को अधिक पेशाब बनाने के लिए प्रोत्साहित करते हैं, खासकर रात में, जिससे आपको बार-बार जागने और पेशाब करने की ज़रूरत महसूस होती है।
  • अन्य चिकित्सा स्थितियां - नोक्टुरिया का कारण अन्य स्थितियां जैसे ब्लैडर ट्यूमर, बढ़ी हुई प्रोस्टेट, अतिरिक्त सक्रिय ब्लैडर और मोटापा भी हो सकता है।
  • गर्भावस्था - गर्भावस्था के दौरान, जब भ्रूण यूटरस के अंदर बढ़ता है, तो यह ब्लैडर पर दबाव डालता है, जिससे आपको बार-बार पेशाब करने की इच्छा होती है। नोक्टुरिया गर्भावस्था का एक आम लक्षण होता है।

 

नोक्टुरिया वृद्ध वयस्कों में एक सामान्य स्थिति होती है, जिसमें 60 वर्ष से ऊपर के पचास प्रतिशत से अधिक पुरुष और महिलाओं में से अधिकतर लोग नोक्टुरिया की शिकायत करते हैं। हालांकि, अगर समय से पहले इसका निदान किया जाए तो नोक्टुरिया को नियंत्रित किया जा सकता है। अगर आप बहुत लंबे समय तक इस समस्या का सामना कर रहे हैं, तो अपने डॉक्टर से तुरंत बात करें।

 

तब तक निम्नलिखित उपायों का पालन करने से आप नोक्टुरिया कंट्रोल कर सकते हैं:

  • पानी दिनभर में पिएँ, रात को सोने से पहले नहीं।
  • सोने से दो घंटे पहले अल्कोहल या कैफीन वाले पेय पदार्थ का सेवन ना करें।
  • अपने पीने के पानी की मात्रा, पीने का समय और पेय प्रकार का ध्यान रखें ताकि किसी भी स्थिति की निगरानी किया जा सके।

 

This blog is a Hindi version of an English-written Blog - Nocturia: What Are The Common Causes of Frequent Urination at Night

Medanta Medical Team
Back to top